DElEd 1st Semester Computer Teaching Shots Question Answer Practice Set

DElEd 1st Semester कम्प्यूटर शिक्षण Computer Teaching Shots Question Answer Set Notes in Hindi

प्रश्न 61. कम्प्यूटर में हिन्दी टाइपिंग के लिए किन्हीं दो सॉफ्टवेयर का बताइए।

उत्तर – कम्प्यूटर में हिन्दी टाइपिंग के दो निम्नलिखित सॉफ्टवेयर होते हैं।

पेजमेकर,

एम. एस. वर्ड आदि।

प्रश्न 62. विभिन्न ऑफिस पैकेजेज कौन-कौन से हैं ? किन्हीं दो के नाम लिखिए।

उत्तर- वर्तमान में कई प्रकार के ऑफिस पैकेजेज प्रचलित हैं, जिनमें प्रमाण निम्नलिखित हैं

1. माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस, 2007—यह कार्यालयों में उपयोग में आने वाला सबसे महत्वपूर्ण पैकेज है। सभी कार्यालयों में मुख्यत: इसी ऑफिस पैकेज का प्रयोग किया जा रहा है क्योंकि इसकी मदद से आप डाटा के रख-रखाव, गणना, प्रस्तुतीकरण आदि सभी कार्यों को कर सकते हैं।

2. ऑरेकल ओपन ऑफिस, 2007—इस ऑफिस पैकेज की मदद से आप कार्यालय के डाटा से सम्बन्धित समस्त कार्यों को बहुत ही सुगमता से कर सकते हैं। इसमें आप आँकड़ों के एकीकरण (संग्रहण) व्यवस्थीकरण आदि कार्यों का निर्वाहन किया जाता है।

प्रश्न 63. ‘इंकजेट’ तथा ‘लेजर-प्रिण्टर’ में मुख्य अन्तर समझाइए।

उत्तर – ‘इंकजेट’ तथा ‘लेजर प्रिण्टर’ में अन्तर के ज्ञान के लिए दोनों की अवधारणा को जानना आवश्यक है—  इंकजेट प्रिण्टर (Ink Jet Printer)—इंकजेट प्रिण्टर की मुद्रण प्रणाली भी डॉट मैट्रिक्स प्रिण्टर की भाँति होती है। इसमें कागज पर छपने वाले विन्दु स्याही की बहुत छोटीछोटी बूंदों के द्वारा बनाये जाते हैं। ये बिन्दु डॉट मैट्रिक्स की तुलना में छोटे एवं नजदीक हात हैं इसलिए अक्षर सुन्दर व स्पष्ट आते हैं।

इंकजेट प्रिण्टरों में स्याही नोजल में से पम्प करके पेपर पर स्प्रे की जाती है। जैसे-जैसे प्रिण्ट हैड चलता है, ये बूंदें अक्षर बनाती जाती हैं। स्याही की बूंदें ठीक स्थान पर गिरे, इस लिए कई तकनीकें अपनायी जाती हैं।

इसमें कम्प्यूटर से प्राप्त सिग्नल को प्रेशर में बदलकर उसे स्याही के बर्तन पर डा जाता है इसे स्याही की बूंद दबाव से प्रिण्ट हैड से कागज पर गिरती हैं तथा अक्षर या आ बन जाती है।

इनसे छपे अक्षर बहुत सुन्दर होते हैं, परन्तु प्रिण्ट की गति काफी मन्द होती है। ये प्रिण्टर इंक भी अधिक व्यय करते हैं इसलिए अधिक खर्चीले होते हैं।

लेजर प्रिण्टर (Laser Printer)–लेजर प्रिण्टर प्रिण्ट की अत्याधुनिक प्रणाली होती है। ये कीमत में अधिक होते हैं, परन्तु गुणवत्ता स्तर अधिक होने के कारण इनका प्रचलन तेजी से बढ़ा है। ये बिना किसी आवाज के कागज पर छापते हैं। ये प्रिण्टर भी बिन्दु छापते हैं, परन्तु बिन्दु इतने पास-पास होते हैं कि मालूम ही नहीं पड़ता है। सामान्य लेजर प्रिण्टर एक वर्ग इंच में 300 बिन्दु छापता है। लेजर प्रिण्टर की कार्यविधि फोटोस्टेट मशीन की भाँति होती है। इसमें लेजर किरणों का प्रयोग होता है। किरणों को आठ समतल दर्पण वाले प्रिज्म पर डाला जाता है। प्रिज्म घूमता रहता है। लेजर किरण परावर्तित होकर बेलन पर पड़ती है। तथा बेलन पर एक चार्ज बिन्दु पैदा हो जाता है। इस प्रकार बेलन पर अक्षर उकेर (उभार) लिए जाते हैं फिर उस पर सूखा स्याही पाउडर डाला जाता है जिसे टोनर (Toner) कहते हैं। पाउडर केवल उन्हीं स्थानों पर लगता है जहाँ प्रकाश बिन्दु होते हैं। तब इस बेलन को कागज पर घुमाकर ये अक्षर कागज पर उतर जाते हैं। ये अक्षर अभी स्थायी नहीं होते हैं। कागज को थोड़ी गमी मिलते ही ये पिघलकर कागज पर स्थायी रूप से छप (चिपक) जाते हैं। पाउडर (Toner) जितना महीन और उच्च क्वालिटी का होता है, अक्षर उतने ही आकर्षक रूप में आते हैं।

DElEd 1st Semester कम्प्यूटर शिक्षण Computer Teaching Shots Question Answer Sample

प्रश्न 64. कम्प्यूटर नेटवर्क से आप क्या समझते हैं ? (बी.टी.सी. 2016) उत्तर

कम्प्यूटर नेटवर्क का अर्थ जब दो या दो से अधिक कम्प्यूटरों को अन्य उपकरणों के साथ परस्पर जोड़ दिया जाता है तो वह नेटवर्क कहलाता है।

एक बड़ा कम्प्यूटर जिससे बहुत सारे अन्य ऐसे कम्प्यूटर जुड़े हों, जिन पर कार्य करने वाले अपने कम्प्यूटरों पर तो कार्य कर ही सकते हैं अपितु उस बड़े कम्प्यूटर की मदद भी ले सकते हैं। कम्प्यूटर में प्रयोग होने वाला सबसे महत्वपूर्ण तथ्य आँकड़े होते हैं जिन्हें डाटा कहा जाता है। डाटा पर गणना करके इसे सूचना के रूप में परिवर्तित किया जाता है। कम्प्यूटर नेटवर्क के अन्तर्गत एक विशेष बड़े कम्प्यूटर के अन्दर सारा डाटा तथा सूचनाएँ भर दी जाती हैं और इसके साथ अन्य कम्प्यूटरों को जोड़ दिया जाता है ! इस बड़े कम्प्यूटर को सर्वर कहते हैं। सर्वर एक विशेष कम्प्यूटर है जो नेटवर्क में केन्द्र का कार्य करता है। सर्वर से जुड़े कम्प्यूटर अपना उसका डाटा शेयर कर सकते हैं साथ ही जुड़े हुए कम्प्यूटर आपस में भी डाटा शेयर कर सकते हैं।

प्रश्न 65. मीडिया प्लेयर का प्रयोग किसलिए किया जाता है ? (बी.टी.सी. 2016)

उत्तर–मीडिया प्लेयर का प्रयोग सिस्टम में सुरक्षित किसी वीडियो फाइल को देखने | (चलाने) हेतु किया जाता है। आज शिक्षा का स्तर इतना उच्च हो गया है कि छात्रों को | अपनी शिक्षण समस्याओं के समाधान के लिए भी कुछ ऐसी विशिष्ट शिक्षण सामग्री की जरूरत होती है जो कि उन्हें सी. डी. या डी. वी. डी. के रूप में प्राप्त होती है। छात्र सी. डी. या डी. वी. डी. को मीडिया प्लेयर की मदद से चलाकर उनसे ज्ञान प्राप्त कर सकता है।

DElEd 1st Semester Computer Teaching Shots Question Answer Practice Set Notes in Hindi

प्रश्न 66. अपलोड (Upload) का क्या अर्थ है?

उत्तर–जब किसी व्यक्ति द्वारा कोई विशिष्ट जानकारी (सूचना), आँकडे का ग्राफ, टैक्स्ट, चलचित्र, वीडियो आदि को किसी साइट पर सर्वसाधारण के देखने या सुरक्षित (सेव) करने के लिए नेट पर जाता है तो इस प्रक्रिया को अपलोड (Upload) कहा जाता है।

प्रश्न 67. ‘स्क्रॉल बार’ की उपयोगिता लिखिए।

उत्तर–स्क्रॉल बार किसी विण्डो में दिखायी जा रही सूचनाओं के एक सिरे से दूसरे सिरे तक जाने के साधन हैं। जो सूचना हमें इस समय दिखाई नहीं पड़ रही है उसे देखने के लिए स्थान पर लाने में इनका प्रयोग किया जाता है। ये सामान्यतः ऐसी विण्डो में दिये जाते । हैं जिससे विण्डो के छोटे आकार के कारण समस्त सूचनाएँ एक बार में दिखायी नहीं पड़तीं।

स्क्रॉल बार दो प्रकार के हो सकते हैं-ऊध्र्वाधर (Vertical) एवं क्षैतिज (Hi. Zontal) । ऊर्ध्वाधर स्क्रॉल बार का प्रयोग सुचनाओं में ऊपर से नीचे (या नीचे से ऊपर)। जाने के लिए किया जाता है। इसी प्रकार क्षैतिज स्क्रॉल बार का प्रयोग सच बाएँ जानि हेतु किया जाता है। ये स्क्रॉल बार प्रत्येक विण्डो में सामान्यतया क्रमशः दाएँ

में दाएँ या किनारे तथा निचले किनारे पर पाए जाते हैं। |

प्रश्न 68. ऑपरेटिंग सिस्टम को समझाइए। (बी.टी.सी. 2016,  डी. एल. एड. 2018)

उत्तर- कम्प्यूटर प्रणाली में ऑपरेटिंग सिस्टम का महत्व

किसी कम्प्यूटर प्रणाली के क्रियान्वयन के लिए उसमें ऑपरेटिंग सिस्टम का होना । अत्यधिक जरूरी है। यदि कम्प्यूटर प्रणाली में ऑपरेटिंग सिस्टम न हो तो वह कोई भी कार्य नहीं कर सकती है। बिना ऑपरेटिंग सिस्टम के कम्प्यूटर प्रणाली केवल एक क्रियाविहीन

शक्तिहीन यन्त्र के समान होती है, क्योंकि इस स्थिति में यह तन्त्र न तो प्रयोक्ता के निर्देशों को प्राप्त कर सकता है न ही अपनी मैमोरी में कुछ संग्रहित कर सकता है और न ही किसी निर्देश का अनुपालन कर सकता है।

अत: यह कहा जा सकता है कि किसी कम्प्यूटर प्रणाली का सर्वाधिक महत्वपूर्ण भाग उसका ऑपरेटिंग सिस्टम ही होता है।

Tagged with: , , , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*