DElEd 1St Semester Sanskrit Very Short Question Answer Practice

DElEd 1St Semester Sanskrit Very Short Question Answer: इस पोस्ट में आपकों मिलेंगे DElEd 1st Semester Sanskrit से जुड़े बहुत ही महत्वपूर्ण Question Answer Practice Set और DElEd 1st Semester Sanskrit Solution Paper and Sample Papers जो कि आपकी DElEd Exam में बहुत मदद करेगें।

Like Our Facebook Page

DElEd All Study Material

DEIEd Sanskrit Question Answer : Page 1

DEIEd Sanskrit Question Answer : Page 2

DEIEd Sanskrit Question Answer : Page 3

DEIEd Sanskrit Question Answer : Page 4

DEIEd Sanskrit Question Answer : Page 5

DEIEd Sanskrit Question Answer : Page 6

DEIEd Sanskrit Question Answer : Page 7

DElEd 1St Semester Sanskrit Very Short Question Answer
DElEd 1St Semester Sanskrit Very Short Question Answer

DElEd 1st Semester Sanskrit अति लघु उत्तरीय प्रश्न Practice Set

प्रश्न 1. लिंग को परिभाषित कीजिए।

उत्तर – संज्ञा के जिस रूप में स्त्री अथवा पुरूष वाचक होने का बोध होता है उसे लिंग कहा जाता है।

प्रश्न 2. पुल्लिंग किसे कहते हैं?

उत्तर – जिन शब्दों से पुरूष जाति का बोध होता है, उसे पुल्लिंग कहते हैं।

प्रश्न 3. स्त्रीलिंग किसे कहते हैं?

उत्तर – जिन शब्दों में किसी स्त्री (मादा) जाति का बोध होता है, उन्हें स्त्रीलिंग कहा जाता है।

प्रश्न 4. अण् प्रत्याहार के अन्तर्गत कौन से वर्ण आते हैं?

उत्तर – अण् प्रत्याहार के अन्तर्गत म वर्ण आते हैं।

प्रश्न 5. नपुंसकलिंग किसे कहते हैं?

उत्तर- ऐसे शब्द जो न नर का एवं न मादा का बोध कराते हैं नपुंसकलिंग कहलाते हैं।

प्रश्न 6. वचन का अर्थ बताइए।

उत्तर – संज्ञा तथा सर्वनाम की संख्या का बोध कराने वाले शब्द वचन कहलाते हैं।

प्रश्न 7. संस्कृत भाषा में पुरूष कितने होते हैं?

उत्तर – संस्कृत भाषा में प्रमुख तीन पुरूष होते हैं – (अ) प्रथम पुरूष, (ब) मध्यम पुरूष, एवं (स) उत्तम पुरूष।

प्रश्न 9. नीति वचन/ सुभाषितानि सूक्तियों की हिन्दी से संस्कृत बनाएँ-

  • सत्य की ही जीत होती है, असत्य की नहीं,

(ब) सभी धनों में विद्दा धन श्रेष्ठ हैं।

(स) आचरण श्रेष्ठ धर्म है।

उत्तर – (अ) सत्यमेंव जयति नानृतम्

(ब) विद्दा धनं सर्व धनं प्रधानम्

(स) आचार: परमों धर्म:

प्रश्न 10. निम्नलिखित हिन्दी वाक्यों का संस्कृत में अनुवाद कीजिए-

  • नदी कोश भर तक टेड़ी है।

(ब) लोभ मोह मनुष्य के शत्रु हैं।

उत्तर – (अ) क्रोशं कुटिला नदी।

(ब) लोभ: मोहा च मानवस्य शत्रु स्त:।

Tagged with: , , , , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*