UPTET Paper Level 1 Bal Vikas Shiksha Shastra Balko ke Liye Khel Kud Ki Avashyakta Question Answer Paper

  1. रूसो को दार्शनिक सन्दर्भों में वर्गीकृत किया जाता है-
  • प्रकृतिवादी दार्शनिक के रूप में
  • व्यक्तिवादी दार्शनिक के रूप में
  • समन्वयवादी दार्शनिक के रूप में
  • आदर्शवादी दार्शनिक के रूप में
  1. ‘एमिली’ नामक पुस्तक के रचयिता हैं-
  • फ्रेडरिक फ्रॉबेल
  • जॉन जैकस रूसो
  • हरबर्ट स्पेंसर
  • पेस्टोलॉजी
  1. रूसो ने ‘एमिली’ को बनाया है-
  • अपनी पुस्तक का नायक
  • अपनी पुस्तक का छात्र नायक
  • अपनी कल्पना का पात्र
  • कुछ भी नहीं
  1. रूसो के अनुसार बाल्यावस्था में बालकों को ऐसी शिक्षा प्रदान की जानी चाहिये जिनके द्वारा बालकों में हो-
  • ऐन्द्रिक प्रशिक्षण
  • बौध्दिक प्रशिक्षण
  • चरित्र निर्माण
  • पारस्परिक ज्ञान
  1. रूसो ने शिक्षा के तीन मूलभूत स्रोत बनाये हैं , जो हैं-
  • प्रकृति , मनुष्य, वस्तुएँ
  • प्रकृति , माता वस्तुएँ
  • प्रकृति , माता , पिता
  • प्रकृति , घर , विधालय
  1. “शिक्षा एक आनन्ददायक…………..एवं उपयोगी जीवन विकास की प्रक्रिया है.”
  • जॉन जैकस रूसो का
  • जॉन ड्यूवी
  • जॉहन हेनरिक पेस्टोलॉजी
  • उपर्युक्त में से कोई नहीं

  1. क्रिया द्वारा सीखना ध्येय वाक्य है-
  • जॉहन हेनरिक पेस्टोलॉजी का
  • हरबर्ट स्पेंसर का
  • जॉन जैकस रूसो का
  • इमैनुअल कोट का
  1. ‘हाऊ गरट्रेड टीचेज हर चिल्ड्रन’ इस पुस्तक में पेस्टोलॉजी ने किस मनोवैज्ञानिक शिक्षण सिध्दान्त की व्याख्या प्रस्तुत की है?
  • ऐन्द्रिक प्रत्यक्षीकरण की
  • आगमनात्मक शिक्षण विधि की
  • उपर्युक्त (A) तथा (B) दोनों की
  • किसी की भी नहीं
  1. जॉन फ्रेडरिक हरबर्ट का मानना था कि सम्पूर्ण शिक्षा का जङ है-
  • छात्र
  • शिक्षक
  • अभिभावक
  • समाज
  1. हरबर्ट प्रसिध्द हुये हैं , अपनी-
  • चतुष्पदीय शिक्षण प्रणाली के योगदान से
  • मौलिक चिंतन से
  • नवीन सिध्दान्तों से
  • धृष्टता से
  1. निम्नलिखित में से कौनसी एक पुस्तक ड्यूवी ने नहीं लिखी है?
  • दी स्कूल एण्ड सोसायटी
  • दी चाइल्ड एण्ड कैरीकुलम
  • स्कूल्स ऑफ टुमारो
  • स्कूल्स विद आउट वाल्स
  1. फ्रॉबेल जनक हैं-
  • किण्डरगार्टन पध्दति के
  • मॉण्टेसरी पध्दति के
  • डाल्टन पध्दति के
  • ह्रारिस्टिक पध्दति के

  1. फ्रॉबेल ने अपने समस्त शैक्षिक विचारों को संजोया है-
  • ‘दी एजूकेशन ऑफ मैन’ नामक पुस्तक में
  • ‘पेडागोगीज ऑफ किंडरगार्टन ’ में
  • ‘मदर प्ले एवं नर्सरी सोंग्स’ में
  • उपर्युक्त में से कोई नहीं
  1. ‘किण्डरगार्टन’ एक जर्मन शब्द है जिसका अभिप्राय है-
  • बालोधान
  • गृहोधान
  • नगरोधान
  • खेलोधान
  1. फ्रॉबेल ने स्वयं अपने प्रथम स्कूल की स्थापना की थी-
  • ब्लैंकनबर्ग में 1836 में
  • बुडापेस्ट में 1836 में
  • एमस्टरडम में 1836 में
  • बर्लिन में 1836 में
  1. प्रत्येक पदार्थ केवल एक ही जीवन कार्यकर्ता से स्पंदित है, क्योंकि सभी को जीवन देने वाला वह एक ही ईश्वर है. “यह कथन किस दार्शनिक से सम्बन्धित है?
  • इमैनुअल काँट
  • प्लेटो
  • फ्राबेल
  • ड्यूवी
  1. फ्राबेल ने ‘दैवीय इकाई के’ तत्व बनाये हैं-
  • तत्वों ,मूल,उद्देश्यों में एकता
  • मानव ,मशीन , प्रकृति में एकता
  • बालक, परिवार, विधालय में एकता
  • बालक, समाज , विधालय में एकता
  1. फ्रॉबेल ने शिक्षा को निम्नलिखित ढंग से परिभाषित किया है-
  • शिक्षा बालक की जन्मजात शक्तियों को बाहर निकालती है
  • शिक्षा बालक का सर्वांगीण विकास करती है
  • शिक्षा बालक को सम्पूर्ण जीवन के लिए तैयार करती है
  • शिक्षा बालक को जीवकोपार्जन के लिये तैयार करती है


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*