UPTET Paper Level 1 Bal Vikas Shiksha Shastra Balko ke Liye Khel Kud Ki Avashyakta Question Answer Paper

  1. किंडरगार्टन का निर्माण किया था-
  • बालकों को उनके स्वभाव के अनुरूप शिक्षा देने के लिये
  • बालकों की शिक्षा के का आन्दोलन प्रारम्भ करने के लिये
  • किंडरगार्टन सिध्दान्तों का प्रयोग-परीक्षण करने के लिये
  • अनाथ बालकों की देखरेख के लिये
  1. किंडरगार्टन पध्दति शिक्षा को प्रदान करती है-
  • खेलों के माध्यम से
  • क्रियाशीलता के माध्यम से
  • खेल उपहारों के माध्यम से
  • उपर्युक्त सभी के माध्यम से
  1. आत्मक्रियाशीलता का फ्रॉबेल के दर्शन में तात्पर्य है-
  • क्रियात्मक सक्रियता
  • आत्मप्रेरणाएं
  • स्वभाव एवं सृष्टि के मध्य –तालमेल बैठाना
  • रचनानुभूति
  1. “ खेल एक आध्यात्मिक क्रिया है”- फ्रॉबेल के इस कथन का अर्थ है कि-
  • खेल , आनन्द प्रदान करने वाली क्रियाएं हैं
  • खेल, हार्दिक एवं शारीरिक विश्राम प्रदान करते हैं
  • खेल, आत्मसंतुष्टि प्रदान करते हैं
  • उपर्युक्त सभी बिन्दु खेल को आध्यात्मिक क्रिया के रूप में स्थापित करते हैं
  1. खेलों के द्वारा शिक्षा प्रदान करते हुए फ्रॉबेल चाहता है कि –
  • शिक्षा खेलों के माध्यम से हो, किन्तु उद्देश्यपूर्ण हो बालक का उचित मार्गदर्शन किया जाए
  • खेलों में उक्त उद्देश्यपूर्णता प्राप्त करने के लिए बालक का उचित मार्गदर्शन किया जाए
  • बालकों को उचित मार्गदर्शन के लिए उनके खेल-खिलौनों को पूर्व में ही निर्धारित किया जाए
  • उपर्युक्त सभी तथ्यों को निरन्तरता क्रम में अपनाया जाना चाहिये
  1. ‘फ्रॉबेल के उपहार’ हैं-
  • बालकों के लिये स्वाभाविक एवं प्रिय उपहार
  • बालकों के लिये खेल सम्बन्धी नियम उपहार
  • बालकों के लिये रुचिकर प्रलोभन के उपहार
  • उपर्युक्त में से कोई भी नहीं

  1. खेल उपहारों में निम्नलिखित में से कौनसी एक विशेषता नहीं है?
  • श्रेणीबध्दता
  • खेल सम्बन्धी नवीनताएं
  • खेल स्थानान्तरण की सुविधाएं
  • उपर्युक्त सभी
  1. फ्रॉबेल के प्रथम उपहार में सम्मिलित हैं-
  • छः रंग –बिरंगी गेंदें
  • छः लकङी के रंग-बिरंगे घन
  • छः लकङी के बेलन
  • छः लकङी की नलिकायें
  1. फ्रॉबेल के दितीय उपहार के माध्यम से बालकों को खेल-खेल में कौनसी शिक्षा प्रदान की गई थी?
  • ज्यॉमितीय आकृतियों की शिक्षा
  • संख्याओं की शिक्षा
  • आकृतियों का ज्ञान
  • उपर्युक्त सभी का ज्ञान
  1. बाल केन्द्रित शिक्षा में निम्नलिखित में से कौनसा तत्व नहीं होगा?
  • खेल
  • निष्क्रियता
  • प्रेरणा
  • संतोष
  1. फ्रॉबेल का किंडरगार्टन था-
  • एक लघु समाज
  • एक उधान मात्र
  • एक मनोरंजक स्थल मात्र
  • उपर्युक्त में से कोई नहीं
  1. बालकों की शिक्षा का दायित्व शिक्षिकाओं को सौपंना चाहिये, क्योंकि उनमें होती हैं-
  • मातृत्व भावनायें
  • स्वाभाविक स्नेह भावनायें
  • ह्रदयस्पर्शी व्यवहार
  • अनुशासनात्मक व्यवहार

  1. मारिया मॉण्टेसरी का जन्म हुआ था-
  • इटली में सन् 1870 में
  • रोम में सन् 1870 में
  • जर्मनी में सन् 1770 में
  • इंगलैण्ड में सन् 1770 में
  1. मॉण्टेसरी ने अपनी शिक्षा पध्दति को जन्म दिया था-
  • व्यक्तिगत एवं व्यावसायिक अनुभवों के आधार पर
  • मानव विज्ञान शिक्षण सम्बन्धी अनुभवों के आधार पर
  • मानवोचित प्रेरणाओं के आधार पर
  • उपर्युक्त B बिन्दु सत्य है
  1. मॉण्टेसरी किस व्यवसाय से सम्बन्धित रहीं?
  • चिकित्सा
  • शिक्षा
  • उपर्युक्त (A) तथा (B) दोनों से
  • उपर्युक्त में से किसी से भी नहीं
  1. ‘दी डिसकवरी ऑफ चाइल्ड’ नामक पुस्तक के लेखक हैं-
  • मारिया मॉँण्टेसरी
  • जवाहरलाल नेहरू
  • रवीन्द्रनाथ टैगोर
  • जॉन ड्यूवी
  1. भारतवर्ष में मारिया मॉण्टेसरी का प्रवासकाल था-
  • 1939 से 1951 तक
  • 1939 से 1949 तक
  • 1939 से 1942 तक
  • 1939 से 1945 तक
  1. बालकों को शिक्षा ग्रहण करते समय होनी चाहिये-
  • पूर्ण स्वतंत्रता का अधिकार
  • शिक्षक अनुशासन के प्रति प्रतिबध्दता
  • स्वअनुशासन की भावना
  • आत्मप्रेरणाएं
  1. मॉण्टेसरी पध्दति में स्कूल को संज्ञा प्रदान की है-
  • बालकों के घर की
  • खेल मैदान की
  • घोङों के मैदान की
  • पोलों मैदान की
  1. क्रीङा संकुल के निर्माण की परिकल्पना प्रस्तुत की गई है-
  • नई शिक्षा नीति-1986 में
  • राममूर्ति कमेटी-1992 में
  • कोठारी कमीशन-1968 में
  • नवोदय समिति-1990 में
  1. ‘ खेल ’ हैं-
  • बालक का स्वाभाविक क्रियाएं
  • बालक की मनोरंजनात्मक क्रियाएं
  • बालक की रुचिकर क्रियाएं
  • उपर्युक्त सभी क्रियाएं
  1. स्टेनले हाल के अनुसार खेल हैं-
  • वंशानुगत क्रियाओं का प्रकाशन
  • भविष्योन्मुखी क्रियाओं का प्रकाशन
  • वर्तमान क्रियाओँ का स्वरूप
  • उपर्युक्त में से कोई नहीं
  1. खेल की सर्वमान्य परिभाषा है-
  • उपलब्ध है
  • उपलब्ध नहीं है
  • दी जा सकती है
  • दी जा सकती है, किन्तु कठिन कार्य है
  1. खेल रचनात्मक एवं सृजनात्मक क्रियाओं का योग है, यह शब्दांश है-
  • नन का
  • किलपैट्रिक का
  • हाल का
  • थॉम्पसन का
  1. ‘खेल-खेल’ के लिए है यह वाक्य है-
  • वैलेन्टाइन का
  • यूनिक का
  • हाल का
  • थॉम्पसन का
  1. खेल पर आनुवंशिकता का प्रभाव पङता है, यह वाक्य सिध्दान्त है-
  • पूर्णरूपेण
  • बिल्कुल नहीं
  • आंशिक
  • किसी-किसी के सन्दर्भ में
  1. खेल के सन्दर्भ में त्रुटिपूर्ण कथन है-
  • खेल मनोरंजानत्मक क्रिया
  • खेल रचनात्मक क्रिया
  • खेल निरर्थक क्रिया
  • खेल मूल प्रवृत्तिशोधन क्रिया
  1. खेल में पाई जाती है-
  • सक्रियता
  • चपलता
  • तत्परता
  • उपर्युक्त सभी
  1. खेल मूलाधार कहे जाते हैं-
  • सामाजिक विकास के
  • शारीरिक विकास के
  • बौध्दिक विकास के
  • आत्मिक विकास के
  1. खेल विधि के अन्तर्गत मुख्य रूप से खेल खेले जाते हैं-
  • गति वाले खेल
  • मानसिक व स्पर्धात्मक खेल
  • रचनात्मक खेल
  • उपर्युक्त सभी
  1. भारत में वर्तमान में कौनसी राष्ट्रीय खेल नीति लागू है?
  • राष्ट्रीय खेल नीति,2005
  • राष्ट्रीय खेल नीति, 2007
  • राष्ट्रीय खेल नीति, 2008
  • राष्ट्रीय खेल नीति,2009

उत्तरमाला (Answer for UPTET Questions)

  1. (D)     (B)    3.    (D)   4.    (D)   5.    (A)   6.    (D)   7.    (A)   8.    (C)     9.    (A)   10.   (C)    11.   (D)   12.   (A)   13.   (A)   14.   (D)   15.   (A)     16.   (D)   17.   (A)   18.   (B)    19.   (C)    20.   (C)    21.   (D)   22.   (D)     23.   (A)   24.   (D)   25.   (C)       26.       (D)       27.       (A)       28.       (C)       29.       (C)           30.       (C)       31.       (D)       32.       (A)       33.       (A)       34.       (B)       35.       (A)       36.       (C)           37.       (A)       38.       (A)       39.       (A)       40.       (A)       41.       (A)       42.       (B)       43.       (B)           44.       (A)       45.       (A)       46.       (A)       47.       (C)       48.       (C)       49.       (A)       50.       (A)           51.       (D)       52.       (A)       53.       (B)       54.       (A)       55.       (A)       56.       (C)       57.       (A)           58.       (A)       59.       (A)       60.       (D)       61.       (C)       62.       (D)       63.       (D)       64.       (B)           65.       (D)       66.       (A)       67.       (A)       68.       (B)       69.       (A)       70.       (B)       71.       (A)           72.       (D)       73.       (A)       74.       (A)       75.       (A)       76.       (A)       77.       (A)       78.       (A)   79.       (D)       80.       (A)       81.       (C)       82.       (A)       83.       (A)       84.       (B)       85.       (C)       86.            (A)       87.       (A)       88.       (D)       89        (B)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*