UPTET Paper Level 1 Bal Vikas Shiksha Shastra Poshak ki Avashyakta Question Answer Papers

UPTET Paper Level 1 Bal Vikas Shiksha Shastra Poshak ki Avashyakta Question Answer Papers : UPTET (Uttar Pradesh Teacher Eligibility Test Excam Paper 2020 Question Answer Solved Sample Papers PDF Download.

UPTET Paper Level 1 Bal Vikas Shiksha Shastra Poshak ki Avashyakta Question Answer Papers

पोशाक की आवश्यकता (UPTET Question Answer)

  1. पोशाक की विशिष्ट पोशाक के फलस्वरूप विधार्थियों में संचारित होती है-
  • ऊर्जा
  • असामाजिकता
  • सम्प्रेषणीयता
  • उपर्युक्त में से कोई नहीं
  1. विधालयों द्वारा सुनिश्चित पोशाक अपनाने के पीछे मूल भावना होती है-
  • नैतिकता का विकास
  • सदाचार का विकास
  • सांस्कृतिक और आर्थिक समानता का विकास
  • उपर्युक्त सभी
  1. राष्ट्र निर्माण और समाज निर्माण में सहायक तत्व हैं-
  • नैतिकता और सदाचार
  • सांस्कृतिक एवं आर्थिक समानता
  • (A) और (B) दोनों
  • उपर्युक्त में से कोई नहीं
  1. विधालयों में विधार्थियों के लिए निर्धारित पोशाक की आवश्यकता है-
  • पहचान के लिए
  • प्रतिष्ठा के लिए
  • अपसंस्कृति के लिए
  • उपर्युक्त में से कोई नहीं

  1. शिक्षकों की पोशाक होनी चाहिए-
  • आधुनिक
  • शिष्ट
  • सामान्य
  • उपर्युक्त में से कोई नहीं
  1. विधालयों में सभी छात्रों द्वारा एक जैसी पोशाक पहनने से विधार्थियों में-
  • राष्ट्रप्रेम की भावना का विकास होता है
  • समानता की भावना विकसित होती है
  • एकता की भावना का विकास होता है
  • उपर्युक्त सभी
  1. विधार्थियों में सांस्कृतिक मूल्यों की स्थापना के लिए आवश्यक है-
  • सभी छात्र-छात्राओं के लिए एक समान पोशाक
  • सभी विधार्थियों के लिए विविध प्रकार की पोशाक पहनने की छूट
  • सांस्कृतिक मूल्यों की शिक्षा प्रदान करना
  • उपर्युक्त में से कोई नहीं
  1. सांस्कृतिक पहचान की स्थापना हेतु आवश्यक है-
  • निर्धारित विशिष्ट पोशाक
  • सामान्य परिधान
  • सुन्दर कपङा पहनना
  • उपर्युक्त में से कोई नहीं
  1. विशिष्ट पोशाक का उपयोग शिक्षण जगत् में है-
  • स्वच्छता के लिए
  • उत्तम स्वास्थ के लिए
  • अनुशासन स्थापना के लिए
  • उपर्युक्त सभी के लिए
  1. विधालय के शैक्षणिक उत्साह सम्बन्धन हेतु विधार्थियों के लिए है-
  • निर्धारित पोशाक का होना आवश्यक नहीं है
  • निर्धारित पोशाक का होना आवश्यक है
  • विधालय में भोजन की व्यवस्था होनी चाहिए
  • उपर्युक्त में से कोई नहीं
  1. विधार्थी जो पोशाक धारण नहीं करके आते हैं ,उन्हें –
  • दण्डित करना चाहिए
  • घर वापस भेज देना चाहिए
  • पुरस्कृत करना चाहिए
  • विधालय से पोशाक देना चाहिए
  1. विधालयों में निर्धारित पोशाक की अनिवार्यता का प्रमुख कारण है-
  • समता एंव सदाचार की भावना जाग्रत करने के लिए
  • पहचान एंव अनुशासन के लिए
  • (A) और (B) दोनों
  • उपर्युक्त में से कोई नहीं

  1. विधालयों की निर्धारित पोशाक के अभाव में-
  • बच्चों में अनुशासनहीनता बढेगी
  • बच्चे सुन्दर वस्त्र पहन कर विधालय आयेंगे
  • बच्चों की नैतिकता पर कोई प्रभाव नहीं पङेगा
  • उपर्युक्त में से कोई नहीं
  1. विधालय की निर्धारित पोशाक का महत्व निम्नलिखित में से है-
  • इससे विधालय की एक अलग पहचान बनती है
  • इससे बच्चों में समानता की भावना विकसित होती है
  • इससे बच्चों में सदाचार को बल मिलता है
  • उपर्युक्त सभी
  1. विधालय में समतापूलक समाज की स्थापना हेतु आवश्यक है-
  • विधालय की विशिष्ट पोशाक
  • श्रेष्ठ शिक्षण व्यवस्था
  • (A) और (B) दोनों ही
  • उपर्युक्त में से कोई नहीं
  1. विधालय में आर्थिक असमानता को बहुत हद तक दूर किया जा सकता है-
  • विशिष्ट पोशाक द्वारा
  • खेल के द्वारा
  • पढाई के द्वारा
  • उपर्युक्त में से कोई नहीं

उत्तरमाला (Answer for UPTET Question Answer Paper)

(A)    2.    (D)   3.    (C)   4.    (A)    5.    (B)    6.    (D)   7.    (A)    8.    (A)      9.    (D)   10.   (B)    11.   (A)    12.   (A)    13.   (A)    14.   (D)   15.   (A)    16.      (A)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*