CTET Paper Level 2 Child Vikas Shiksha Shastra Model Sample Paper

CTET Paper Level 2 Child Vikas Shiksha Shastra Model Sample Paper

CTET Paper Level 2 Child Vikas Shiksha Shastra Model Sample Paper:- CTET Paper Level 2 Child Vikas Shiksha Shastra Model Sample Paper:- इस पोस्ट में आपकों मिलेगें CTET से जुड़े बाल विकास एवं शिक्षा शास्त्र (Child Development and Pedagogy) से जुड़े बहुत ही महत्वपूर्ण Question Answer Model Paper Practice Set in Hindi इस पोस्ट में 1 से 50 तक Question Answer दिये गयें है।

CTET Paper Level 2 Child Vikas Shiksha Shastra Model Sample Paper
CTET Paper Level 2 Child Vikas Shiksh Shastra Model Sample Paper

बाल विकास एवं शिक्षा अध्ययन (Child Development and Pedagogy)

  1. शिक्षण सामग्री का प्राथमिक रूप से चयन किया जाना चाहिए

शिक्षकों द्वारा

प्रधानाचार्य द्वारा

विद्दालय परिषद् द्वारा

छात्रों द्वारा

  1. प्राथमिक शिक्षा का सर्वाधिक हित लाभ निम्नलिखित में से किसमें निहित है?

शिक्षक में

प्रशासनिक अधिकारी में

माता पिता को

समाज को

  1. प्राथमिक शिक्षा का सर्वाधिक लाभ निम्नलिखित में से सम्बन्धित है-

छात्र सुधार

शिक्षक सुधार

प्राथमिक पाठ्यक्रम की पुनरावृत्ति

समायोपयोगी शिक्षा

  1. एक विद्दालयी पाठ्यक्रम को सर्वोत्तम तरीके से परिभाषित किया जा सकता है-

छात्रों की समस्त क्रियाओं को सक्रिय बनाने वाली सामग्री

शिक्षण के लिए प्रयुक्त समस्त सामग्री एवं विधियाँ

छात्रों को विद्दालय द्वारा प्रदत्त संगठित अनुभव

विद्दालय द्वारा छात्र का विभिन्न क्षेत्रों में ज्ञानार्जन

  1. दैनिक शिक्षण प्रक्रिया का न्यूनतम आवश्यक अंग हैं-

प्रत्येक शिक्षण दिवस के शिक्षण उद्देश्यों का निर्धारण करना

शिक्षण आगमी दिन की कक्षा को योजना को सुस्पष्ट करें

शिक्षण गमी दिन की कक्षा की योजना को सुस्पष्ट करें

शिक्षण के बाद पन्द्रह मिनट का समय छात्रों को स्वतंत्र चिन्तन के लिए प्रदान करना

  1. दण्ड उसी स्थिति में सर्वाधिक प्रभावी सिद्ध होगा, जबकि-

यह अपराध के औचित्य के अनुरूप हो

प्रत्येक अपराध के लिए नियमबद्ध दण्ड विधान हो

यह अपराध के कारणों पर प्रभावी हो

यह कक्षा द्वारा निर्धारित किया गया हो

  1. प्रभावी शिक्षा के लिए एक पाठ इकाई के लक्ष्यों का स्पष्टीकरण किया जाना चाहिए-

पाठ्यक्रम निर्माता को

उस शिक्षक के द्वारा जिसका स्थानीय सम्पर्क उत्तम हैं

छात्र शिक्षकों के पारस्परिक सहयोग के द्वारा

छात्र समूहों द्वारा

  1. प्रौढ़ व्यक्तियों की अधिगम योग्यताओं सम्बन्धी शीघ्र अध्ययनों से ज्ञात हुआ हैं कि –

(A) वे ऐसे कार्यों में अधिक उत्तम निष्पादन का प्रर्दशन करते हैं, जो अपेक्षाकृत अधिक सतर्कतापूर्ण एवं परिवर्तनशील होते हैं

(B) वे नवीन वस्तुओं को शीघ्र याद कर लेते हैं

(C) वे सार्थक सामग्री की 16 वर्ष के बच्चे के समान ___गति से याद करने में समर्थ होते हैं

(D) मानसिक शक्तियों की गिरावट के फलस्वरूप वे  याद करने में असमर्थ रहते हैं

  1. वह कौनसी आयु है जबकि एक किशोर बालक प्रौढ़ के समान लम्बाई प्राप्त कर लेता है?

(A) लड़कों के लिए 16 वर्ष तथा लड़कियों के लिए 14 वर्ष

(B) लड़कों के लिए 14 वर्ष तथा लड़कियों के लिए 16 वर्ष

(C) लड़कों के लिए दोनों लड़कियों के लिए 14 वर्ष

(D) लड़कों के लिए 16 वर्ष तथा लड़कियों के लिए 14 वर्ष

  1. कक्षा के आधारित सिद्धांतों की निम्नलिखित में से किसके प्रतिस्थापना की जानी चाहिए?

(A) छात्र समूह

(B) शिक्षक

(C) छात्र एवं शिक्षक

(D) प्रधानाचार्य

CTET Paper Level 2 Child Vikas Shiksha Shastra Model Paper in Hindi

  1. शिक्षक का प्राथमिक दायित्व निहित रहता है

(A) छात्रों के लिए शैक्षिक अनुभवों के निर्माण में

(B) प्रशासनिक नीतियों के क्रियान्वयन में

(C) शिक्षण तकनीकी सम्बन्धी प्रयोग में ।

(D) कक्षीय अभिलेख तैयार करने में

  1. एक प्रभावी शिक्षण में निम्नलिखित गुण नहीं पाया जाता

(A) वाद-विवाद प्रविधियाँ

(B) गृहकार्यों का बोझ

(C) पाठों का रटना

(D) शिक्षण सामग्री का भरपूर उपयोग

  1. आधुनिक शिक्षण में सर्वाधिक गिरावट आई है

(A) पाठों के श्रवण में

(B) व्यक्तिगत रिपोर्ट तैयार करने में

(C) दृश्य-श्रव्य सामग्री के प्रयोग

(D) पैनल-विचार-विमर्श में

  1. पाठ्येत्तर क्रियाओं में छात्र सहभागिता होनी चाहिए

(A) अपेक्षित एवं वांछनीय

(B) हतोत्साहित करने वाली

(C) प्रोत्साहनपूर्ण किन्तु स्वैच्छिक

(D) छात्रवृत्ति के आधार पर चयनित

  1. एक निरक्षर को यदि एक अक्षर पढ़ाना शुरू दें, तो भारत को साक्षर बनाया जा सकता है। इस सम्बन्ध में आपकी क्या राय है?

(A) भारतवर्ष को पूर्ण साक्षर बनाना सरल नहीं है।

(B) साक्षर बनाने से पूर्व जनसंख्या नियंत्रण जरूरी

(C) यदि सभी प्रयास करें, तो भारत को साक्षर बनाया जा सकता है

(D) भारतवर्ष की जनता का निरक्षर रहना जरूरी है

  1. ‘यूनिट’ है

(A) शिक्षक द्वारा प्रयुक्त सम्पूर्ण पाठ योजना

(B) उद्देश्यों एवं शिक्षण विषय-वस्तु को एक संगठित रूप में क्रियान्वित करने की योजना

(C) एक ऐसी योजना जिसे छात्रों की आवश्यकता के आधार पर अभिकल्पित (डिजाइन) किया जाता

(D) अधिगम क्रियाओं की दीर्घ श्रृंखला जिसे वर्णित उद्देश्यों की प्राप्ति के क्रम में व्यक्त किया जाता

  1. समाजशास्त्री एवं अपराधशास्त्रियों की नजर में अपराध

(A) निम्न सामाजिक आर्थिक स्तर तक सीमित

(B) निम्न बौद्धिक वर्ग के व्यक्तियों तक सीमित

(C) उपर्युक्त दोनों से सम्बन्धित नहीं है।

(D) आनुवंशिक गुणों तक

  1. छात्रों की शैक्षिक उपलब्धि को निम्नलिखित में से कौनसा अशैक्षिक कारक सर्वाधिक प्रभावित करता

(A) स्वाध्याय की आदतें

(B) विद्यालय के बाहर छात्र के उत्तरदायित्व

(C) छात्र की प्रेरणाएँ

(D) छात्रों की संवेगों से मुक्ति

  1. प्रजातांत्रिक प्रणाली में शिक्षक का प्रमुख कर्त्तव्य यह है कि वह छात्रों का दिशा निर्देशन इस प्रकार करे कि वे

(A) बिना हिच-किचाहट समस्त निर्देशों का पालन करें

(B) कक्षीय विचार-विमर्श में आलोचनात्मक ढंग से भाग लें

(C) प्रभुत्व का सम्मान करें तथा आज्ञापालन करें

(D) स्वयं में उत्तम विकल्प के चयन की योग्यता उत्पन्न करें

  1. छात्र कक्षा के किसी घंटे में क्या अध्ययन करेगा, यह निर्णय करता है?

(A) स्वयं छात्र

(B) शिक्षक

(C) प्रधानाचार्य

(D) माता-पिता

CTET Paper Level 2 Child Vikas Shiksha Shastra Question Answer in Hindi

21 पाठ्यक्रम की योजना निम्नलिखित में से किसके द्वारा बनायी जानी चाहिए?

(A) कक्षा के शिक्षकों द्वारा

(B) शिक्षाविदों एवं सामान्य व्यक्तियों की समिति द्वारा

(C) राष्ट्रीय पाठ्यक्रम निर्माणकर्ता समिति का पुनर्गठन

(D) विद्यालय परिषद के मानद सदस्य तथा जनता के कुछ चयनित प्रतिनिधि

  1. छात्र-समिति का निम्नलिखित कार्य नहीं है

(A) नेतागिरी की ट्रेनिंग के रूप में

(B) प्रशासक अभिकरण के रूप में

(C) विद्यालय मनोबल के वृद्धि के रूप में

(D) उपर्युक्त सभी

  1. उत्तम पाठ योजनाएँ वे होती हैं, जिन्हें

(A) शिक्षक प्रतिवर्ष तैयार करते हैं

(B) विभाग के लिए सम्पूर्ण शिक्षकों द्वारा तैयार किया जाता है

(C) शिक्षक-छात्रों के परस्पर सहयोग द्वारा तैयार किया जाता है

(D) छात्र-समिति द्वारा तैयार किया जाता है

  1. छात्रों में जो द्वन्द्व जन्म लेते हैं वे उनके अन्तः वैयक्तिक सम्बन्धों को भी प्रभावित करते हैं, इन द्वन्द में निहित रहते हैं

(A) असुरक्षाएँ

(B) असक्षमताएँ

(C) स्नायु असंतुलन

(D) व्यवहार के विघटन

  1. एक समूह की भांति कक्षा के मनोबल को सर्वाधिक सशक्त रूप से प्रभावित करने वाला कारक है

(A) समूह ससंजकता

(B) सामाजिक परिपक्वता

(C) संवेगात्मक समरूपता

(D) समूह एकरूपता

  1. आधुनिक बुद्धि परीक्षण सर्वाधिक मापन करते हैं?

(A) व्यक्तियों द्वारा प्राप्त शैक्षिक अनु भवों का

(B) सामान्य अभियोग्यता का

(C) जन्मजात अभियोग्यता का

(D) सामाजिक बुद्धि का

  1. एक मन्द बुद्धि तथा अशिक्षित बालक की बुद्धि के मापन की विधि है

(A) शैक्षिक परीक्षण

(B) शाब्दिक परीक्षण

(C) निष्पादन परीक्षण

(D) कारक परीक्षण

  1. छात्र प्राय: अपने शिक्षकों को निम्नलिखित कारण सम्मान प्रदान करते हैं

(A) कानून प्रभुत्व

(B) शिक्षक का व्यक्तित्व तथा छात्र कल्याण के कार्य

(C) परिपक्व एवं उच्च सामाजिक स्तर

(D) पिता तुल्य प्रतिस्थापन

  1. निम्नलिखित में से कौनसा शिक्षक-कथन छात्रों सकारात्मक अभिवृत्ति के विकास में महत्वपूर्ण भमिका अदा करता है?

(A) यह कहना कि “राम मैं जानता हूँ कि आपने पाठ नहीं पढ़ा है”

(B) यह कहना कि “राम, तुम गणित में कमजोर ___हो, शीला तुम इसकी मदद करो”

(C) राम को यह कहना कि उसने आपकी डेस्क से धन चुराया है

(D) राम के बारे में उसके माता-पिता को बताना कि वह आलसी एवं कामचोर है

  1. बालक के व्यवहार के निर्धारण के सन्दर्भ में निम्नलिखित में से कौनसा व्यवहार न्यूनतम रूप से सत्य प्रतीत हैं ?

(A) जब बालक के सम्मुख अनेक प्रेरक तथा लक्ष्य होते हैं तो उसमें से कुछ एक अधिक प्रभावी होते।

(B) शारीरिक आवश्यकताओं से व्युत्पन्न आवश्यकताएँ। व्यवहार को अधिक ठोस रूप से प्रभावित करती है।

(C) उद्देश्यपरकता व्यवहार के निर्धारण में प्रसन्नता। एवं पीडा के प्रेरकों से अधिक प्रभावी मानी। जाती है

(D) प्रत्येक बालक सुनिश्चित व्यवहार प्रदर्शन की दशा में अपनी आवश्यकताओं की सन्तुष्टि के लिए अधिकाधिक प्रयास करता है।

CTET Paper Level 2 Child Development and Pedagogy Model Papers

  1. एक शिक्षक संगठन के सन्दर्भ में निम्नलिखित में से कौनसा तथ्य सही है?

(A) इन संगठनों का राजनीतिकरण हो गया है

(B) इन संगठनों में महिला एवं पुरुषों का विभेदीकरण हो गया है

(C) इन संगठनों में सहयोगात्मक रवैया समाप्त हो।

  1. D) इन संगठनों का निर्माण स्थानीय, राज्य एवं राष्ट्र स्तर पर किया जाता है|
  2. प्राथमिक स्तर के पाठ्यक्रमों का झुकाव होना चाहिए

(A) विषय वस्तु की ओर

(B) सम्पूर्ण विषयों का समाधिकार चेष्टा की ओर

(C) सामाजिक विकास की ओर

(D) बाल अभिवृद्धि के समस्त पक्षों की और

  1. सामाजिक समायोजन कठिनाई उत्पन्न करता है

(A) समय पूर्व परिपक्व होने वाले बालक में

(B) आयु के पश्चात् परिपक्वता प्राप्त करने वाले बालक में

(C) आयु के पश्चात् परिपक्वता प्राप्त करने वाली लड़की में

(D) आयु पूर्व परिपक्व होने वाली लड़की में

  1. आधुनिक समय में पाठ्यक्रम निर्माण में निम्नलिखित तथ्य पर सर्वाधिक बल प्रदान किया गया है

(A) विषय-वस्तु एवं विधियों में शिथिलता

(B) विषय-वस्तु के संगठन में तार्किकता

(C) छात्रों के सार्थक अनुभव देने में

(D) ‘A’ तथा ‘B’ दोनों ही ।

  1. यदि शिक्षक यह चाहता है कि वह शिक्षण यूनिट के उद्देश्यों की ठीक-ठीक जाँच पड़ताल करे तो उसे निम्नलिखित का प्रयोग नहीं करना चाहिए

(A) सपुस्तक परीक्षा प्रणाली का

(B) छात्रों के मतों का

(C) छात्र निर्मित रूपरेखा का

(D) उपर्युक्त में से कोई नहीं

  1. छोटे बच्चों के सामाजीकरण में खेलों द्वारा जो लाभ मिलता है, वह है

(A) बालक को क्रियाओं का अन्य बालकों की तुलना में मूल्यांकन हो जाता है।

(B) बालक सामाजिक प्रत्याशाओं के अनुकूल समायोजना सीख लेता है

(C) बालक शारीरिक रूप से विश्राम पा लेता है |

(D) बालक के शारीरिक एवं गामक विकासों को बढ़ावा मिलता है। “.

  1. जब बालक लगभग दो वर्ष का हो जाता है, तो बालकों में सामूहिक खेलों में एक ‘सामनान्तीकरण’ हो जाता है। इससे तात्पर्य यह है कि बालक

(A) अन्य बालकों के साथ खेलना पसंद नहीं करता यद्यपि उन समूहों के निकट एकाकी रूप से खेलता है

(B) अन्य बालकों के साथ समूह सहभागिता करता

(c) उन कार्यों को दोहराता है जिन्हें अन्य बालक खेल के दौरान कर रहे होते हैं।

(D) वह स्वयं अकेले खेलना पसंद करते हैं।

  1. ऐसे बालक जो सामाजिक सम्बन्धों में सर्वाधिक नकारात्मक गणों का प्रर्दशन करते हैं, उदाहरण के

लिए आज्ञा न मानना आदि । ऐसे बालकों के साथ व्यवहार किया जाना चाहिए

(A) उसके इस व्यवहार को विकास की स्वाभाविक घटना समझकर ध्यान नहीं देना चाहिए

(B) उस पर काफी दबाव डाला जाए जिससे वह कक्षा के अन्य छात्रों की तरह आज्ञा का पालन करना सीख जाए

(C) उसके प्रत्येक कार्य की प्रशंसा की जाए, ताकि वह सकारात्मक व्यवहार ग्रहण कर ले ।

(D) उसे आदेश देना बंद कर दिया जाए।

  1. जनसाधारण की ऐसी मान्यता है कि आधुनिक बालक जितने अधिक तनाव एवं सांवेगिक असंतुलन से गुजर रहे हैं, उतने अधिक इस शताब्दी से पूर्व के बच्चे कभी नहीं गजरे थे। समाज-मनोवैज्ञानिकों के अनुसार इसका प्रमुख कारण यह है कि

(A) आधुनिक समाज उत्तरोतर क्लिष्ट, तनावयुक्त तथा चिन्ता से भरपूर होता जा रहा है।

(B) परिवार में अन्त:वैयक्तिक सम्बन्धों की अनुभूतियाँ दुर्बल हो चली है

(C) बालकों का अब रुझान समाज की ओर अधिक हो गया है, जो कि विगत शताब्दी में आत्म-केन्द्रित स्थिति में प्रकट होता था

(D) आज समस्त शिक्षा ने बालकों में समरूपीय विकास की कल्पना की है, जबकि पूर्व में ऐसा नहीं था

  1. कुछ दशक पूर्व तक एक माध्यमिक स्तर का शिक्षण प्राथमिक स्तर के शिक्षण से अधिक महत्त्वपूर्ण समझा जाता था, इसका प्रमुख कारण था

(A) माध्यमिक स्तर पर पाठ्यक्रम अधिक जटिल होता है, अतः शिक्षण स्तर अधिक ऊँचा हो जाता है।

(B) माध्यमिक स्तर के शिक्षण के लिये शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम अधिक जटिल होता है, जिससे इस स्तर का महत्त्व बढ़ जाता है

(C) माध्यमिक स्तर के शिक्षक का वेतनमान अधिक होता है, इसलिए उसका अधिक सम्मान किया। जाता है

(D) उपर्युक्त सभी

CTET Paper Level 2 Child Vikas Question Model Practices Set

  1. यदि शिक्षण व्यवसाय की तुलना अन्य व्यवसाय से करें, तो इसमें सबसे बड़ी कमी प्रतीत होती है

(A) इसका प्रशिक्षण स्तर

(B) प्रशिक्षण संस्थान

(C) अध्यापकों का वेतनमान

(D) उचित सामाजिक दृष्टिकोण का न होना।

  1. एक विद्यालय में औसत छात्र को कितना प्रभावी निर्देशन प्राप्त हो पाता है? यह निर्भर करता है

(A) प्रधानाचार्य पर

(B) अधीक्षक पर

(C) कक्षा के शिक्षक पर

(D) निर्देशनदाता पर ।

  1. छात्रों को व्यावसायिक निर्देशन की आवश्यकता पड़ती है इसमें छात्र

(A) उचित व्यवसाय पाने में सक्षम होंगे

(B) उचित शैक्षिक विषयों को चयन करने में सक्षम होते हैं

(C) अपनी रुचि का व्यवसाय पाने में सक्षम होंगे

(D) क्षमतानुकूल व्यवसाय चुन पाएँगे

  1. द्वितीय विश्वयुद्ध के पश्चात् ‘सोशल स्टडीज’ के शिक्षण में जो परिवर्तन आया है, वह है

(A) भूगोल पर न्यून बल

(B) ‘सोशल-स्टडीज’ के समस्त विषयों का एकीकरण

(C) जनियर हाईस्कूल स्तर पर ‘विश्व इतिहास’ का शिक्षण

  1. D) विभिन्न राज्यों के इतिहास शिक्षण की समाप्ति
  2. बालक के प्रारम्भिक सामाजिक विकास में सर्वाधिक महत्त्वपूर्ण कारक होता है

(A) बालक की अपने समूह एवं मित्र मण्डली के प्रति अभिवृत्तियाँ

(B) अपने ही लिंग के माता या पिता से लगाव

(C) संवेगात्मक सुरक्षा की आशिक योग्यता

(D) घर का वातावरण

  1. एक पाठ-योजना के निर्माण में

(A) उद्देश्य, समस्याओं के विश्लेषण से मुक्त रहते हैं।

(B) शिक्षण क्रियाओं से छात्रों को मुक्त रखा जाता है।

(C) शिक्षण बिन्दुओं को मूल्यांकन के क्रम में व्यवस्थित किया जाता है

(D) शिक्षण समस्या सम्बन्धी तकनीकियों, प्रविधियों, संसाधनों आदि का प्रयोग किया जाता है।

  1. दैनिक पाठ-योजना को होना चाहिए

(A) यूनिट समस्या के निश्चित पक्ष पर प्रहार करने वाली

(B) निर्धारित योजना का कठोर अनुसरण करने वाली

(C) प्रत्येक प्रक्रिया के लिए समय-सारणी निर्धारित करने वाली

(D) छात्रों में स्वनिर्देशन की अभिवृत्ति

  1. एक उत्तम ‘स्कूल क्लब’ की कसौटी है

(A) इसके सदस्यों का आकार

(B) इसकी आर्थिक स्थिति

(C) छात्रों में स्वनिर्देशन की अभिवृत्ति

D छात्रों में संसदीय प्रणाला क गुणों का विकास

  1. कोर पाठ्यक्रम के अंतर्गत

(A) एक कोर्स के द्वारा अनेक सम्बन्धित को (Courses) को प्रतिस्थापित किया जाता है

(B) समस्त वर्ग के छात्रों को एकसमान प्रारम्भिक अनुभव प्रदान किए जाते हैं।

(C) विभिन्न विषय-वस्तुओं के मध्य प्रकार्यात्मक सहसम्बन्ध स्थापित करने का प्रयास किया जाता

(D) पाठयक्रम का निर्माण छात्रों की रुचियों. योग्य तथा अनभवों के अनुरूप किया जाता है

  1. य. जी. सी. में ‘महिला शिक्षा प्रकोष्ठ’ की स्थापना हुई थी

(A) कोठारी आयोग की संस्तुति के आधार पर सन 1976 में

(B) राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अन्तर्गत सन् 1986 के उपरान्त

(C) डॉ. राममूर्ति कमेटी की संस्तुति के फलस्वरूप सन् 1990

(D) 20 सूत्रीय कार्यक्रम के अन्तर्गत सन् 1977 में।

उत्तर माला (CTET Paper Level 2 Child Vikas Question Model Practices Set)

  1. (A) 2. (D) 3.    (B)    4.    (C)    5.    (D)    6.    (C)    7.    (C)    8.    (C)    9.      (D)    10.   (C)    11.   (A)    12.   (C)    13.   (A)    14.   (C)    15.   (C)    16.   (D)      17.   (C)    18.   (C)    19.   (D)    20.   (B)    21.   (B)    22.   (B)    23.   (C)    24.      (D)    25.   (B)    26.   (A)    27.   (A)    28.   (B)    29.   (D)    30.   (D)    31.   (C)      32.   (D)    33.   (B)    34.   (C)    35.   (D)    36.   (B)    37.   (C)    38.   (C)    39.      (B)    40.   (D)    41.   (C)    42.   (A)    43.   (C)    44.   (B)    45.   (B)    46.   (D)      47.   (A)    48.   (C)    49.   (B)    50.   (B)

More CTET Question Answer in Hindi

🤞 Don’t miss these Notes!

We don’t spam! Read more in our privacy policy

Leave a Comment

Your email address will not be published.